Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin List

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin ही वो सरकारी योजना है जिसके द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में फ्री में मकान बनवा सकते हैं। इस योजना के तहत अभी तक लाखो मकान ग्राम क्षेत्र में बनवाये जा चुके हैं और सरकार ने 2022 में भी कम से कम 80 लाख घर बनवाने का लक्ष्य लिया है जी पर लगभग 18 हजार रूपये खर्च किये जाएंगे।

दोस्तों भारत सरकार का ये भरपूर प्रयास है की देश में ऐसे सभी परिवारों को अपन पक्का मकान दिया जायेगा  जिनके पास कोई पक्का मकान नहीं है। अगर आप ऐसी श्रेणी में आते हैं तो आपके लिए खुशखबरी ये है की अब आपको भी अपना पक्का मकान मिलने वाला है जिसके लिए आपको कुछ भी खर्च करने की जरूरत नहीं होगी।

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin

अगर आप यह पोस्ट ध्यान से पढ़ेंगे  तो आप भी इस काबिल हो जायेंगे की इस योजना के लिए कैसे और कहाँ पर अप्लाई करना है।  अगर सरकार द्वारा इतने प्रयासों के बाद भी आपके पास कच्चा मकान है तो ये आपका ही कशूर होगा। आज के इस पोस्ट में PM Awas Yojana Gramin की पूरी जानकारी है जिसके आधार पर आप अपने आधार कार्ड के द्वारा ही मकान के लिए अप्लाई कर पाएंगे।

Table of Contents

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण 2022 की जानकारी हिंदी में।

इससे पहले Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin 2022 के लिए अप्लाई करना सीखे , इस योजना के बारे में पूरी जानकारी होना बेहद जरूरी है। क्योंकि जब तक आपको इस योजना की पूरी जानकारी नहीं होगी तब तक आपके  साथ कोई भी जालसाजी कर सकता है।

PMAY-g

सबसे पहले आपको ये जानना जरूरी है की आप किस क्षेत्र में रहते हैं अगर आप शहरी क्षेत्र में रहते हैं तो आप PMAY Urban के लिए अप्लाई कर सकते हैं लेकिन अगर आप ग्रामीण खेत्र में रहते हैं तो आप Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण से मिलने वाला अनुदान

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत आपको कोई पैसा लगाने की जरूरत नहीं होगी।  यह योजना प्रधान मंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई है।  इससे पहले इस योजना का नाम इंदिरा आवास योजना होता था लेकिन वर्ष 2016 में इस योजना का नाम बदलकर प्रधानमंत्री आवास योजना रखा गया था।

PMAY-g

दूसरी जानकारी आपके लिए बेहद जरूरी है की वर्ष 2022 में इस योजना के तहत मकान और भी बड़ा बनाया जायेगा।  पहले यह मकान 20 वर्ग मीटर में बनाया जाता था लेकिन अब यह मकान  साफ़ सुथरी रसोई और साफ़ सुथरे सोचालय के साथ 25 वर्ग मीटर में बनाया जाने लगा है।  इससे पहले मकान बनाने के लिए मात्र  70000 रूपये का अनुदान दिया जाता था लेकिन अब यह राशि बढ़ाकर 1 लाख 30 हजार रूपये कर दी गई है।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण राशि की जानकारी हिंदी में।

दोस्तों जैसे ऊपर जानकारी दी गई है की पहले Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Amount 70000 रूपये होता था लेकिन अब यह राशि 1 लाख 30 हजार रूपये कर दी गई है।  इसके आलावा मकान के क्षेत्र भी 20 वर्ग मीटर से बढ़ाकर 25 वर्ग मीटर कर दिया गया है।  इस योजना में साफ़ सुथरी रसोई भी बनाकर दी जाएगी।

जिस परिवार को यह मकान बनाकर दिया जायेगा उस परिवार  के सदस्य को मनरेगा के तहत 95 दिनों का रोजगार भी दिया जायेगा और मनरेगा स्कीम के तहत साफ़ सुथरा सोचालय भी बनाकर दिया जायेगा जो मकान के अनुदान से अलग होगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लाभ हिंदी में।

Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin Benefit सीधे और स्पष्ट हैं।  इस योजना के तहत सभी कच्चे मकान में रहने वाले या जिनके पास कोई मकान ही नहीं है उन सभी को पक्का मकान दिया जायेगा।  यह मकान देने के लिए सरकार कोई पैसा नहीं लेगी। 

यह मकान दो कमरों के साथ साथ साफ़ सुथरी रसोई के साथ होगा।  इसके आलावा मनरेगा स्कीम के तहत अलग से स्वच्छ सोचालय भी बनाकर दिया जायेगा।  जिस परिवार को यह पक्का मकान दिया जायेगा उस परिवार के मनरेगा योजना के तहत रोजगार भी दिया जायेगा।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत फ्री में गैस कनेक्शन दिया जाता है।

दीनदयाल योजना के तहत फ्री में बिजली कनेक्शन दिया जाता है। 

प्रधान मंत्री स्वच्छ भारत मिशन के तहत फ्री में स्वच्छ सोचालय बना कर दिया जाता है जिस पर 12000 रूपये अलग से खर्च किये जाते हैं।

जल जीवन मिशन के तहत स्वच्छ पानी का कनेक्शन दिया जाता है।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण के लिए लाभार्थी  कैसे चुना जाता है।

दोस्तों इस योजना के लिए लाभार्थी का चुनाव जनगणना 2011 के आधार पर किया जाता है।  अभी तक जितनी भी जनकल्याण योजनाए लांच हुई हैं उन सभी का लाभ जनगणना 2011 के आधार पर ही दिया जा रहा है।

जनगणना 2011 के समय में जितने लोगो को गरीबी रेखा से निचे गिना गया था और जिनके पास अभी तक पक्का घर नहीं है।  इसके आलावा ग्राम पंचायत भी ग्राम के ऐसे लोगो का नाम अपनी तरफ से देती है जिनके पास पक्का घर नहीं है।  योग्यता के आधार पर ऐसे लोगो को पक्का भर दिया जाता है।  ऐसे लाभार्थी ज्यादातर उत्तर प्रदेश या बिहार के ज्यादा मात्रा में हैं।

इस योजना में औरतो को ज्यादा महत्ता दी जा रही है।  PM Awas Yojana Gramin स्कीम के तहत औरतो को मकान ज्यादा आल्लोट किये जा रहे हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण दस्तावेज की जानकारी हिंदी में

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास कुछ कागजात होने जरूरी हैं। 

आपके पास कोई न कोई आई डी प्रूफ होना जरूरी है।

आई डी प्रूफ में आपकी उम्र का होना जरूरी है।

जाती प्रमाण पत्र भी होना चाहिए।

अनुदान राशि सीधे बैंक खाते में डाली जाती है इसलिए आपके पास बैंक खाता भी होना चाहिए।

जिस राज्य में रहते हैं उस रही का एड्रेस प्रूफ भी होना चाहिए।

अगर आपके पास आधार कार्ड है तो उसमे ये सभी प्रमाण होते हैं जैसे आई डी प्रूफ , एड्रेस प्रूफ , ऐज प्रूफ। इत्यादि।

आवेदनकर्ता   का फोटोग्राफ भी लगेगा।

अगर आवेदनकर्ता  मनरेगा में जॉब करते हैं तो उसका जॉब कार्ड भी लगेगा।

मोबाइल नंबर

राशन कार्ड

प्रधान मंत्री आवास योजना के लिए आवेदन  कैसे अप्लाई करें।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण के लिए केवल ऑफलाइन तरिके से ही अप्लाई किया जा सकता है।  इस योजना के लिए अप्लाई तीन जगहों पर किया जा सकता है। 

सबसे पहले अप्लाई करने का स्थान ग्रामीण पंचायत के जरिये ही होता है। अगर किसी वजह से ग्रामीण पंचायत आपका आवेदन नहीं स्वीकार करती है तो आप ब्लॉक लेवल पर अपने आवास सहायक अधिकार के पास यह आवेदन कर सकते हैं।

अगर किसी वजह से ब्लॉक सहायक अधिकारी नहीं है तो ब्लॉक डेवलमेंट अफसर के  पास भी अपना आवेदन अप्लाई कर सकते हैं। 

अगर आप इस योजना के लिए पात्र हैं और कोई भी अधिकारी आपकी सुनवाई नहीं करता है तो आप सीधे प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण पर के टोलफ्री नंबर या ईमेल आई डी पर भी शिकायत कर सकते हैं।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण पीएमई का स्टेटस कैसे जांच करें।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण स्टेटस जानने के लिए आपको निचे दी गई गाइडलाइन फॉलो करनी होगी।

सबसे प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की ऑफिसियल वेबसाइट को खोल लें।

PMAYG

वेबसाइट पर मैन मेनू में Awaassoft के लिंक पर क्लिक करें।

लिंक पर क्लिक करने के बाद निचे report पर क्लिक करें।

PMAYG

इसके बाद Social Audit Reports के निचे Beneficiary Details for Verification पर क्लिक करें।

इसके बाद नया पेज खुल जायेगा इस पेज पर बाई तरफ सबसे पहले अपने राज्य को चुने , उसके बाद अपने जिले को चुने।

PMAYG

अगली स्टेप में अपने ब्लॉक को चुने , इसके बाद साल को चुने और उसके बाद अपनी ग्रामीण पंचायत को चुने।

निचे कॅप्टचा कोड दिया गया है उसे  सही से डालें और Submit पर क्लिक करें।

क्लिक करते ही दाई तरफ ग्राम पंचायत के अंतर्गत उस साल बनने वाले या बनाये गए घरो की लिस्ट खुल जाएगी जिसमे लाभार्थी का नाम , स्कीम का नाम और साल ,   नरेगा जो कार्ड , घर सेक्शन हुआ है या नहीं इस तरह की सभी डिटेल्स खुल जाएँगी।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म।

PMAYG योजना के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन तो भरी जा सकती है लेकिन यह अधिकार केवल ब्लॉक लेवल के अधिकारीयों के पास होता है।

हालाँकि आम आवेदनकर्ता के पास ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरने का अधिकार नहीं होता लेकिन सभी आवेदनकर्ता के पास ये जानने का तो अधिकार है की ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म में क्या क्या भरा जाता है और क्या क्या पूछा जाता है।

 प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरने के लिए सबसे पहले Register / Add Beneficiary पर क्लिक करें।

PMAYG

इसके बाद सबसे पहले पर्सनल डिटेल्स भरें ,  बैंक  अकाउंट डिटेल्स भरें , कन्वर्जेन्स डिटेल्स भरें , कंसर्न अफसर से  डिटेल्स भरें।

लाभार्थी को रजिस्टर करने के लिए उसकी पंचायत को सेलेक्ट करना है और उसकी सोशल केटेगरी को सेलेक्ट करना है।

PMAYG

सर्च बटन पर क्लिक करते ही उस पंचायत के अंतर्गत आने वाले पात्र लोगो के नाम अपने आप लिस्ट में आ जायेंगे। 

इसके बाद पात्र लोगो की लिस्ट में लाभार्थी का नाम सेलेक्ट करना है और उसकी डिटेल्स भरनी है।

PMAYG

सर्च बटन पर क्लिक करने के बाद इस तरह की लाभार्थियों की लिस्ट स्क्रीन पर आ जाएगी जो पहले से ही सरकार द्वारा चयनित है।

PMAYG

आवेदनकर्ता को सेलेक्ट करने के बाद उसकी सामान्य डिटेल्स भरनी है जैसे उसका जेंडर , मकान का मालिकाना हक , अगर मकान मालिक विधवा है, आवेदनकर्ता हैंडीकैप है तो उसकी डिसेबिलिटी टाइप , मोबाइल नंबर , ओनरशिप टाइप , कंसेंट फॉर्म अपलोड करें इत्यादि।

PMAYG

अगले सेक्शन में बैंक टाइप , बैंक का नाम , ब्रांच का नाम , बैंक अकाउंट नंबर , लाभार्थी का पासबुक पर नाम , अगर लाभार्थी लोन लेना चाहता है तो  यह लोन 10000 से 70000 रूपये का हो सकता है।

लाभार्थी का मनरेगा जॉब कार्ड नंबर , लाभार्थी का स्वच्छ भारत मिशन नंबर भी भरना है।

इस प्रकार से यह एप्लीकेशन फॉर पूरा हो जायेगा।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण के लिए MIS कैसे देखें

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों  तरह से MIS देखि जा सकती  है।

पहले ऑनलाइन MIS  का तरीका समझते हैं।

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट pmayg.nic.in/netiay/home पर विजिट करें।

PMAYG

इसके बाद मैन मेनू में Awaassoft पर क्लिक करने।  निचे Data Entry पर क्लिक करने।

इसके बाद तीन तरह के डाटा एंट्री ऑप्शन खुल जायेंगे।

सबसे पहले वाले ऑप्शन MIS Data Entry पर क्लिक करें।

PMAYG

निचे Login के ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद एक और विंडो स्क्रीन पर खुलेगी।  इस विंडो में New Server पर क्लिक करें।

इसके बाद अपना यूजर आई डी और पासवर्ड इस फॉर्म में डालें और लॉगिन पर क्लिक करने। 

लॉगिन पर क्लिक करते ही आपके सामने MIS खुल जाएगी।

ध्यान रहे ये आई डी और पासवर्ड केवल ब्लॉक लेवल के अधिकारियो के पास ही होता है।

कुछ प्र्शन और उनके उत्तर

Q. – PMAY  ग्रामीण लिस्ट कैसे देखे

Ans. – PMAYG पर ग्रामीण आवास योजना पर क्लिक करें अपना जिला , ब्लॉक , पंचायत सेलेक्ट करें और लिस्ट स्क्रीन पर  खुल जाएगी।

Q. – प्रधान मंत्री आवास योजना में अर्बन और ग्रामीण इलाको में  अलग अलग राशि क्यों देते हैं।

Ans. – प्रधान मंत्री आवास योजना की राशि क्षेत्र की लागत के हिसाब से भी होती है।  इसलिए ग्रामीण और अर्बन क्षत्रो में राशि में फर्क होता है।

Q. – अगर प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण में धांधली होती है तो किसे रिपोर्ट करें।

Ans. – अगर  प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण में कर्रेप्शन के लिए रिपोर्ट करना है तो इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर Public Grievance पर अपनी कंप्लेंट रजिस्टर करें।

Q. –   प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत घर बनाने के लिए कितना पैसा मिलता है।

Ans. –  प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण  के तहत 1 लाख 30 हजार रूपये की राशि घर बनाने के लिए दी जाती है।

Comments are closed.