State Bank of India History in Hindi

इस पोस्ट का विषय है, State Bank of India History in Hindi

SBI बैंक , SBI बैंक की स्थापना , ईस्ट इंडियन कंपनी के वक्त SBI का नाम क्या था  , पहली बार SBI का नाम कब SBI रखा गया , SBI की टोटल ब्रांचेज , टोटल ATM , टोटल एमपॉयीज , टोटल कस्टमर और टोटल कैपिटल क्या है।

भारतीय स्टेट बैंक जिसे SBI यानी स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के नाम से भी जाना जाता है। जो एक सार्वजनकि क्षेत्र का बैंक है। जिसे हम गवर्नमेंट बैंक भी कह सकते हैं।

SBI का नाम फार्च्यून 500 कंपनियों में दर्ज है।  अगर आप फार्च्यून 500 के बारे में नहीं जानते तो मुझे कमेंट बॉक्स में लिखें मैं इस पर एक सेपरेट post बना दूंगा।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना कब हुई

SBI जो की देश का सबसे बड़ा बैंक है उसकी आधार शिला लगभग 213 साल पहले रखी गई थी।

1806 में जब बैंक ऑफ़ कोलकाता की स्थापना हुई थी तो किसको पता था की आगे चल कर यह इतना बड़ा बैंक बनेगा जिसका नाम भारतीय स्टेट बैंक होगा।

भारतीय स्टेट बैंक की स्थापना की कहानी कर्म वाइज ।

1806 में एक बैंक की स्थापना हुई थी जिसका नाम बैंक ऑफ़ कोलकाता था और 1809 जिसे बैंक ऑफ़ बंगाल के नाम से पुनर्गठित किया गया। 

यह एक ऐसा बैंक था जिसे ब्रिटिश सरकार और बंगाल सरकार एक साँझा स्टॉक के तहत चलाते थे।

बैंक ऑफ़ बंगाल के साथ साथ दो और अन्य बैंको को खोला गया था जिनके नाम बैंक ऑफ़ मुंबई और बैंक ऑफ़ मद्रास था।

इन तीनो बैंको में निजी निवेशकों की पूँजी अधिक थी लेकिन 1823 में इन तीनो बैंको पर सरकार का नियंत्रण हो गया।

बैंक ऑफ़ बंगाल  की कहानी थोड़ी आगे बड़ी और 1921 में बैंक ऑफ़ मुंबई और बैंक ऑफ़ मद्रास का विलय इसमें हो गया।

बैंक ऑफ़ बंगाल  , बैंक ऑफ़ मुंबई और बैंक ऑफ़ मद्रास का विलय होने के बाद इसको एक नया नाम दिया गया जो था इम्पीरियल बैंक ऑफ़ इंडिया।

पहली बार जब भारतीय स्टेट बैंक का नाम पड़ा

आजादी प्राप्त करने के बाद  1955 में  भारतीय पार्लियमेंट में एक अधिनियम पास किया गया और जिसके अंर्गत इम्पीरियल बैंक को अधिगृहित किया गया और 1 जुलाई 1955 में इस बैंक का नाम बदलकर भारतीय स्टेट बैंक रख दिया गया। 1955 में ही RBI ने 60% की हिस्सेदारी लेते हुए इसे अपने नियंत्रण में ले लिया। इसलिए स्टेट बैंक और इंडिया का स्थापना दिवस 1 जुलाई 1955 को माना जाता  है।

SBI के सहयोगी बैंको की स्थापना

अब कहानी यही नहीं रूकती है , 1955 में ही सब्सिडियरी एक्ट लाया गया और इसके बाद स्टेट बैंक ऑफ़ हैदराबाद , स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर , स्टेट बैंक ऑफ़ इंदौर , स्टेट बैंक ऑफ़ जयपुर , स्टेट बैंक ऑफ़ सौराष्ट्र , स्टेट बैंक ऑफ़ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ़ पटियाला , स्टेट बैंक ऑफ़ त्रावणकोर और भारतीय महिला बैंक जैसे सहयोगी बैंको को बनया गया।

SBI के सहयोगी बैंको का विलय

लेकिन जैसे अंत देश की सभी नदिया एक समुद्र में आ कर मिल जाती हैं ऐसे ही 2017 में SBI की इन सभी सहयोगी बैंको को SBI में विलय कर दिया गया।

SBI के टोटल कस्टमर्स

भारतीय स्टेट बैंक की आज देश में 22000 अधिक ब्रांचे हैं और 71968 के आस पास देश में बी सी आउटलेट हैं। देश में लगभग 62617 के आस पास एटीएम मशीन हैं। देश में लगभग 45 करोड़ कस्टमर्स हैं जो स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के साथ जुड़े हुए हैं।

आज के समय में SBI केवल एक भारतीय बैंक ही नहीं है बल्कि एक मल्टी नेशनल बैंक बन गया है।  SBI ने लगभग 31 देशो में 229 कार्यालय खोल रखे हैं।

SBI दुनिया का 43 वां सबसे बड़ा बैंक है और दुनिया भर की फार्च्यून 500 कंपनियों में इसका स्थान 221 वां है।

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया में सरकार की हिस्सेदारी

वर्ष 2020 में SBI की भारतीय बाजार में सम्पति के हिसाब से  कुल 23%  हिस्सेदारी है और जमा पूँजी और लोन के हिसाब से 25% की हिस्सेदारी है।

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया की टोटल एसेट्स

मौजूदा वक्त में SBI की टोटल एसेट्स 48.46 लाख करोड़ है।  और मौजूदा समय में SBI में लगभग 245652 एम्प्लाइज काम करते हैं। जो की दुनिया भर में शायद ही किसी कंपनी या बैंक में इतने एम्प्लाइज काम करते होंगे।

भारतीय स्टेट बैंक का मुख्यालय कहां है

SBI का हेडक्वार्टर मुंबई में है और इस बैंक के पास लगभग 892.54 करोड़ issued कैपिटल है।

एक बार SBI में खाता खुलवाने के बाद आप ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से अपने खाते को ऑपरेट कर सकते है।  केवल इतना ही नहीं बल्कि अब तो SBI Yono ऐप के द्वारा अपना खाता भी ऑनलाइन खुलवा सकते हैं।

SBI की YONO ऐप

SBI की YONO एक ऐसा ऐप है जिसके जरिये बैंको से जुड़े सभी लेन देन घर बैठे कर सकते हैं।  इस ऐप के द्वारा आप कॅश विथड्रावल , फण्ड ट्रांसफर , एटीएम कार्ड , चेक बुक अप्लाई करना , डिजिटल अकाउंट खोलना इत्यादि सभी बैंकिंग कार्य कर सकते हैं।

भारतीय स्टेट बैंक के सीईओ कौन है

रजनीश कुमार SBI के वर्तमान CEO हैं।

SBI के पहले चैयरमेन – जॉन मथाई थे और पहली महिला चैयरमेन अरुंधति भट्टाचार्य थी।

SBI में सभी निर्णय एक बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स  लेती है , जिसमे टोटल 13 सदस्य होते हैं इनमे 1 चेयरमैन होता है , 4 मैनेजिंग डायरेक्टर्स होते है ओट 8 डायरेक्टर्स होते हैं।

SBI का टोटल बिज़नेस और सरकार की हिस्सेदारी

SBI का टोटल बिज़नेस 33 लाख करोड़ है।  SBI एक पब्लिक सेक्टर यूनिट यानि PSU या सर्वजनक क्षेत्र का बैंक है , साल 2017 में SBI में भारत सरकार की हिस्सेदारी 54.23% थी।

SBI की सबसे पहली विदेशी ब्रांच

SBI ने अपनी सबसे पहली विदेशी ब्रांच 1963 में लंदन में खोली थी जो अब दुनिया के 36 देशो में फ़ैल चुकी हैं।

SBI की लोकप्रिय सर्विसेज

SBI आज के समय में अपने कस्टमर्स को अनेक लोकप्रिय सर्विसेज दे रहा है जैसे SBI Zero Balance Account , SBI Online Account, SBI Credit Card, SBI Personal Loan, SBI Home Loan और SBI Business Loan इत्यादि।

Comments are closed.